गेस्ट फैकल्टी भर्ती अटकी, विद्या संबल योजना

 आरक्षण में उलझी विद्या सम्बल, गेस्ट फैकल्टी भर्ती अटकी


गेस्ट फैकल्टी भर्ती अटकी, विद्या संबल योजना


राज्य के सरकारी स्कूलों में खाली पड़े 93000 पदों को गेस्ट फैकल्टी से भरने की विद्या संबल योजना को शिक्षा विभाग ने आगामी आदेश तक स्थगित कर दिया है। वरीयता सूची जारी होने से 2 दिन पहले सोमवार को शिक्षा निदेशक गौरव अग्रवाल ने इस संबंध में आदेश जारी किए। टीएसपी क्षेत्र में नॉन टीएसपी व बाहरी अभ्यर्थियों की भर्ती और इसमें आरक्षण का प्रावधान नहीं होने जैसे विवादों के बाद सरकार ने उसे स्थगित करने का निर्णय लिया है। अभी विभाग ने इस संबंध में वित्त विभाग समेत अन्य से मार्गदर्शन मांगा है। वही मामले पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुर में आयोजित मेगा जॉब फेयर में कहा कि आरक्षण कानूनी प्रावधान हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने मुहर लगा दी है आरक्षण की कोई गणना गड़बड़ हुई तो ठीक कर देंगे। 


यह है भर्ती प्रक्रिया

  • 93000 पद स्कूलों में जाने थे गेस्ट फैकेल्टी से
  • 7 नवंबर तक आवेदन लिए गए
  • 11 नवंबर को अभ्यर्थियों की अस्थाई सूची 11 स्कूलों में चस्पा की गई
  • 16 नवंबर को स्थाई वरीयता सूची जारी होनी थी। 
  • 14 नवंबर को शिक्षा विभाग ने योजना को आगामी आदेश तक स्थगित करने का पत्र जारी कर दिया। 


गेस्ट फैकल्टी को लेकर कई तरह की परेशानियां सामने आ रही थी। टीएसपी क्षेत्र व नॉन टीएसपी क्षेत्र के लोगों की भर्ती नहीं करने, राज्य से बाहर के लोगों को इस योजना में शामिल नहीं करने की मांग हो रही थी। वित्त विभाग ने मार्गदर्शन मांगा है परीक्षण के बाद शीघ्र ही फैसला लेकर योजना की प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी डॉ. बी डी कल्ला, शिक्षा मंत्री


अपरिहार्य कारणों से विदा संबल योजना स्थगित करने के आदेश जारी किए गए। भविष्य में सरकार के फैसले के अनुसार योजना लागू की जाएगी। गौरव अग्रवाल, शिक्षा निदेशक

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ