युवती की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या

घर के पास खेत में मिला शव , घसीटने के मिले निशान


मटका के घर के बाहर डॉग स्क्वायड टीम


पावटा : ग्राम पंचायत दांतिल के पास ढाणी डोडावाली में बुधवार रात एक युवती की गला रेत कर हत्या का मामला सामने आया है। घर के पास 100 मीटर की दूरी पर ही खेत में एक 20 वर्षीय व्यक्ति की लाश मिली है। मृतका के घर से खेत तक घसीट कर ले जाने के निशान मिले हैं। पुलिस की अब तक की जांच में हत्या में किसी परिचित का हाथ होने की बात सामने आ रही है।

 प्रागपुरा थाना प्रभारी हवा सिंह ने बताया कि मृतका के पिता राजकुमार ने रिपोर्ट में बताया कि उसके अलावा उसका भाई डीजे बजाने का कार्य करते हैं। वह बुधवार रात किसी विवाह समारोह में डीजे बजाने गए थे रात को करीब 12:00 बजे घर लौटे तो बेटी मनीषा के कमरे में नहीं मिलने पर कुछ देर इंतजार किया। उसके नहीं लौटने पर घर के बाहर तलाश किया। उन्हें रास्ते में मृतका का केप मिला। आगे बढ़ने पर कुछ दूरी पर खाली खेत में उसका शव पड़ा नजर आया। 

उसका गला धारदार हथियार से कटा हुआ था। अब तक की पूछताछ में पुलिस को जरूरी सुराग मिले हैं। पुलिस के अनुसार हत्या में किसी परिचित का हाथ हो सकता है। युवती रात को बहनों के साथ कमरे में थी। उसके घर से  घसीटकर ले जाने के समय कोई शोर नहीं होने व परिवार के अन्य सदस्यों को जानकारी नहीं होने से पुलिस को शक है कि हत्या में कोई परिचित शामिल हो सकता है। 


एफएसल टीम ने जुटाए साक्ष्य


प्रागपुरा पुलिस की सूचना पर कार्यवाहक एएसपी सुमित गुप्ता, कार्यवाहक उप अधीक्षक ईश्वर सिंह, प्रागपुरा एसएचओ हवा सिंह यादव व एसआई राकेश कुमार व सुशीला पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। एफएसएल टीम ने मौके पर पहुंचकर जरूरी साक्ष्य जुटाए। डॉग स्क्वायड भी कुछ दूर जाकर रुक गए और कोई सुराग नहीं लगा। सबका बीडीएम अस्पताल में मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करा कर परिजनों को सौंप दिया। 


फसलों में सिंचाई के लिए तालाबों से नहीं होगी आपूर्ति। 

हिंगोनिया बांध जल वितरक कमेटी की बैठक


सवाई जयसिंह पुरा पंचायत मुख्यालय स्थित भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केंद्र परिसर में गुरुवार को हिंगोनिया बांध जल वितरण कमेटी की बैठक सिंचाई विभाग के सहायक अभियंता अनिल थारोल के नेतृत्व में आयोजित हुई। इस मौके पर कांसेल व सवाई जयसिंह पुरा पंचायत क्षेत्र के किसान मौजूद रहे। बैठक के दौरान हिंगोनिया बांध में पानी की भराव क्षमता 3 फीट 7 इंच रहने से फसलों के लिए सिंचाई आपूर्ति नहीं करने के निर्णय को लेकर किसानों में नाराजगी दिखाई दी। 


हिंगोनिया बांध में केवल मवेशियों को पानी पिलाने के लिए पंचायत क्षेत्र के तालाब में पानी भरा जाएगा। सिंचाई विभाग के सहायक अभियंता अनिल कुमार ने बताया कि बैठक के दौरान 8 घंटे शेरपुरा तालाब, 20 घंटे सवाई जयसिंह पुरा तलाब, 25 घंटे का कांसेल तालाब , 15 घंटे राताखेड़ा तालाब , 20 घंटे सारदा  तालाब में पानी छोड़ा जाएगा,

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ