Truck made of fire on the highway: Blast LPG cylinder found up to 300 meters away. hindin.in

हाईवे पर आग का गोला बना ट्रक : ब्लास्ट एलपीजी सिलेंडर 300 मीटर दूरी तक मिले। 



जयपुर अजमेर हाईवे पर दांतरी की है घटना: पुलिस को ट्रक के पास जले हुए मिले शरीर के अंग। 


जयपुर अजमेर हाईवे पर दांतरी के पास शनिवार रात के सिलेंट्रो से भरे ट्रक में आग व धमाकों के साथ हुए ब्लास्ट की घटना के बाद पूरे इलाके में देर रात तक अफरा तफरी का माहौल रहा। 

फोन पर लोग घटना की देर रात तक जानकारी व आग बुझाने की सूचना लेते रहे। हादसा इतना भीषण था कि ब्लास्ट हुए सिलेंडरों के टुकड़े घटनास्थल से 300 मीटर दूरी तक मिले हैं। वही जले हुए मानव अंग भी मिले हैं। घटनास्थल के पास रहने वाले लोग सिलेंडरों से भरे ट्रक में लगातार हो रहे धमाकों की आवाज सुनकर भयभीत हो गए और घरों से निकलकर सुरक्षित स्थान पर पहुंच गए। 

हाईवे पर वाहन चालको में अफरा-तफरी का माहौल था। करीब डेढ़ से 2 किलोमीटर दूरी पर वाहनों को रोक दिया गया। सिलेंडर मैं लगातार ब्लास्ट की उठती लपटें देख लोग दहशत में आ गए। 
दमकल ने आग पर काबू पाने का काम शुरू कर दिया लेकिन लगातार धमाकों से आग पर काबू पाने में दमकल कर्मियों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। 

हाईवे पर बिखरे सिलेंडर, होता रहा रिसाव। 

आग लगने से आधे घंटे बाद तीन दमकल ने आग पर काबू पाने के लिए मौके पर पहुंच गई और आग पर काबू पाने का काम शुरू किया। रात करीब 10:30 बजे आग पर काबू पा लिया गया लेकिन हाईवे पर बिखरे सिलेंडरों से गैस का रिसाव हो रहा जिससे दमकल कर्मी भी फिर से आग लगने को लेकर आशंकित रहे। 


10 कि.मी. तक जाम, वाहन डायवर्ट

आग लगने के बाद करीब 10 किलोमीटर तक वाहनों की कतार लग गई। वाहनों को नरेना रुपनगढ़ स्टेट हाईवे से निकाला गया। वाहनों के कई किलोमीटर तक कतार लगने से आग बुझाने के लिए पहुंचे दमकले भी जाम में फस गई। रात करीब 10:15 बजे आग पर काबू पा लिया गया। सिलेंट्रो के धमाकों में ट्रक की पूरी तरह परखच्चे उड़ गए। देर रात तक मौके पर दूदू एसपी ज्ञानप्रकाश नवल व एसडीएम भूपेंद्र यादव मौके पर मौजूद रहे

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ