Hariyali Jaipur News will now be seen in eight markets of Parkota.

ग्रीन कोटा मुहिम: आकर्षक फूलों के पौधे लगाए जाएंगे, पुराने पेड़ों की भी होगी देखरेख। 


 परकोटा के आठ बाजारो में अब दिखेगी हरियाली जयपुर न्यूज़। 



राजधानी के परकोटा क्षेत्र में हेरिटेज नगर निगम हरियाली को बढ़ावा देने के लिए ग्रीन परकोटा अभियान चला रहा है। इसकी शुरुआत भी निगम कर चुका है। बड़ी चौपड़ और छोटी चौपड़ के अलावा चांदपोल बाजार के डिवाइडर पर भी पौधे लगाए जा रहे हैं। निगम अधिकारियों की मानें तो चांदपोल के अलावा गंणगौरी बाजार, हवा महल रोड, रामगंज, घाट गेट, त्रिपोलिया, जोहरी बाजार और किशनपोल बाजार में सजावटी पौधे लगाए जाएंगे। 

किशनपोल बाजार में डिवाइडर के अलावा स्मार्ट सिटी की ओर से बनाए गए लैंडस्केप को भी विकसित किया जाएगा। इसी तरह हवा महल के डिवाइडर में खूबसूरत पौधे लगाए जाएंगे। देख ले क्या अभाव से यह डिवाइडर बिना पौधों के ही है। निगम अधिकारियों का कहना है कि सैलानियों के साथ-साथ क्षेत्रवासियों को ध्यान में रखते हुए यह सौंदर्य करण करवाया जा रहा है। उद्यान शाखा के उद्यानविज्ञ रविंद्र सिंह के माने तो कुछ ऐसी जगहों को भी चिन्हित किया जा रहा है जहां पहले से बड़े पेड़ हुआ करते थे और किसी कारणवश अब नहीं है वहां नए पेड़ लगवाए जाएंगे। 

इसलिए है निगम का फोकस। 

आबादी के लिहाज से परकोटा क्षेत्र में पेड़ पौधे कम है। मुख्य बाजारों की बात करें तो त्रिपोलिया बाजार में कुछ पेड़ जरूर दिखते हैं। बाकी अन्य बाजारों में पेड़ों की संख्या नहीं  के बराबर है। जनप्रतिनिधि भी लगातार पौधे लगाने की मांग कर रहे हैं। मेट्रो के निर्माण कार्य के दौरान कई पेड़ काट दिए गए। इतनी संख्या में परकोटे में नए पेड़ नहीं लगे। जिससे कमी और ज्यादा दिखने लगी। दोनों चौपडौ पर बरगद के पेड़ थे। लेकिन मेट्रो की वजह से खत्म हो गए चांदपोल बाजार में भी कई पेड़ हटाए गए। 


आमजन भी करे सहयोग। 

उद्यान शाखा के अधिकारियों के अनुसार चांदपोल बाजार में जिन स्थानों पर पेड़ पौधे लगाए हैं वहां लोग उनको तोड़ रहे हैं इससे न सिर्फ पौधा खराब होते हैं बल्कि पौधा उन्नति भी नहीं करता है इसलिए निगम की ओर से वहां गार्ड तक लगाए थे। लोगों को इस अभियान में आगे आकर पेड़ पौधों को बचाने में सहयोग करना चाहिए। 

एनकैप के तहत होगा काम। 

केंद्र सरकार ने नेशनल क्लीन एयर प्रोग्राम एनकेप के तहत परकोटे और दूसरे क्षेत्रों में ग्रीनरी को बढ़ावा देने के लिए यह पैसा खर्च किया जाएगा। एक अनुमान के मुताबिक 10 करोड इसमें खर्च होने की संभावना है। 
परकोटे को हरा भरा बनाने की मुहिम शुरू की गई है। इससे जनप्रतिनिधियों को भी जोड़ा जाएगा। परकोटे की मुख्य सड़कों के अलावा आमेर रोड और ग्रीन वैली में भी विकास कार्य कराए जाएंगे। 

1.30 लाख घरों में बांटे जाएंगे औषधीय पौधे। 

मंगलवार से हेरीटेज निगम में औषधीय पौधों का वितरण शुरू होगा। डेढ़ लाख घरों में पौधे दिए जाएंगे। हर घर में 8 पौधे निगम की ओर से दिए जाएंगे। पार्षदों को भी अभी 50 से लेकर 200 को दे दिए जा रहे हैं। परकोटा क्षेत्र में पार्षदों को 50 से लेकर 100 पौधे और बाहरी क्षेत्रों में पार्षदों को 200 से ढाई सौ पौधे उपलब्ध कराए जा रहे हैं। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ