Smart City Mission.Rajasthan came in second place in six years. स्मार्ट सिटी मिशन। 1 साल में छटे से दूसरे नंबर पर आया राजस्थान।

 स्मार्ट सिटी मिशन। 

1 साल में छटे से दूसरे नंबर पर आया राजस्थान। 



100 शहरों की सूची में जयपुर 36वे, उदयपुर 8वें , कोटा 11वें , अजमेर 29वें स्थान पर है। 

36 राज्यों की रैकिंग में पाया मुकाम। 

स्मार्ट सिटी मिशन की रैंकिंग में इस बार राजस्थान देश में दूसरे पायदान पर पहुंच गया है। पिछले साल छठवां नंबर पर था। पहले पर झारखंड और तीसरे स्थान पर आंध्रप्रदेश रहा। 
केंद्र ने देश के 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की उक्त रैंकिंग सोमवार को ऑनलाइन जारी की। देश के 100 शहरों की सूची में जयपुर 36  वें स्थान पर रहा। 
उदयपुर 8 वें, कोटा 11वें , और अजमेर 29 वें  स्थान पर रहा। 
राज्य में चार ही शहर स्मार्ट सिटी में शामिल है और जयपुर इन में आखिरी सीडी पर रहा। 

रैंकिंग के यह आधार।  

परियोजना का क्रियान्वयन यानी कितना काम पूरा किया गया और प्रोजेक्ट निर्धारित समय से चल रहा है या नहीं। निविदा अधीन कार्य, प्राप्त फंड का उपयोग एवं केंद्र को समय-समय पर उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने जैसे मापदंड शामिल है।  


इस तरह दूसरे पायदान पर आया राजस्थान। 

  • राज्य के चार शहरों को अब तक कुल 1845 करोड़ रुपए प्राप्त हुए। इनमें से 1563 करोड़ का काम विभिन्न परियोजनाओं में कराया। 
  • 4 शहरों में 405 परियोजनाओं के लिए 3965 करोड़ जारी हुई है। इनमें से 448 करोड के 138 कार्य पूरे हुए। 
  • 2772 करोड़ के 178 प्रोजेक्ट पर कार्य जारी। 
  • प्रक्रियाधीन 17 प्रोजेक्ट 145 करोड रुपए लागत के हैं। 


जयपुर टॉप पर अजमेर फिसला। 

शहर             2020         2021

जयपुर।              42              36
उदयपुर।             27               8
कोटा।                12              11
अजमेर               18              29

रैंकिंग में सुधार, मगर काम की धीमी रफ्तार: स्मार्ट सिटी की रैंकिंग में जयपुर में सुधार किया है। 2020 में जयपुर 42 वा स्थान पर था। और इस बार 36 वी रैंक आई है। हालांकि यह काम की रफ्तार अन्य शहरों के मुकाबले काफी धीमी है। यहां अब तक 23 प्रोजेक्ट ही पूरे हो पाए हैं। जबकि उदयपुर ,कोटा ,अजमेर संख्या के आधार पर प्रयोजना पूर्ण में जयपुर से आगे हैं। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ