Scuffle for vaccine, police called

टीके के लिए हाथापाई , बुलानी पड़ी पुलिस। 


बगरू में वैक्सीन सेंटर पर सोशल डिस्टेंस की उड़ी धज्जियां। 




18 प्लस के 200 युवाओं को लगी डोज। 

पुलिस ने समझाइश कर शांत कराया मामला। 

डोज खत्म तो सैकड़ों लोग लोटे बेरंग। 


बगरू //    कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीन की कमी के चलते वैक्सीनेशन सेंटर्स पर हाथापाई, हल्ला की नौबत आने लगी है। अरे कोई पहले टीके लगवाना चाह रहा है। लेकिन डोज कम होने पर कुछ लोगों को बैरंग भी लौट रहे हैं। शनिवार को बगरू में वैक्सीनेशन के दौरान उमड़ी सैकड़ों लोगों की भीड़ ने जहां सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ाई वही हाथापाई की नौबत तक आ गई। आखिरकार पुलिस ने आकर स्थिति संभाली।  

जानकारी के अनुसार शनिवार को महात्मा गांधी विद्यालय परिसर में बने वैक्सीनेशन सेंटर पर 9:00 से 11:00 तक समाचार पत्र वितरक, नगरपालिका कर्मी, बैंक कर्मी, पालिका पार्षद आदि को वैक्सीन लगनी थी। इसके बाद 18 से 45 वर्ष तक के लोगों को वैक्सीनेशन होना था। लेकिन यहां करीब 400 से अधिक लोगों की भीड़ उमड़ गई। 

भीड़ बढ़ी तो बीच में ही कुछ लोग अंदर जाने के प्रयास में रहे तो कतार में लगकर इंतजार कर रहे युवाओं ने इसका विरोध किया। इसी को लेकर युवाओं के बीच धक्का-मुक्की हो गई। बड़ी संख्या में भीड़ लग गई। 

नौबत हाथापाई तक पहुंचने गई तो वैक्सीनेशन सेंटर पर मौजूद चिकित्सा विभाग के कर्मचारियों ने बगरू पुलिस को सूचित किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने समझाइश कर मामला शांत कराया। चिकित्सा प्रभारी डॉ एचएन बाज्या ने बताया कि 18 प्लस के 200 लोगों को डोज लगाई गई। 


बगरू केंद्र पर उमड़े लोग ठिके के चक्कर में सोशल डिस्टेंस की पालना भूल गए। 
लोग चर्चा करते रहे कि अगर टीके के लिए यही नौबत रही तो कोरोना फिर से पैर पसार लेगा। हालांकि लोग सुबह 8:00 बजे से ही विद्यालय परिसर में डोज लगवाने के लिए कतार लगाना शुरु हो गए थे। धीरे-धीरे भीड़ इतनी बढ़ गई कि मेला जैसा माहौल हो गया। गर्मी में भी लोग ठेके के लिए कतार में लगे रहे। जब डोज खत्म हुई तो सैकड़ों लोगों को बैरंग लौटना पड़ा। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ